आर्यभट्ट विज्ञान क्लब एक फिर सम्मानित

Image
आर्यभट्ट विज्ञान क्लब एक फिर सम्मानित



विज्ञान प्रसार , विज्ञान एवम प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा 12 और 13 अगस्त को दर्शन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एन्ड टेक्नोलॉजी, राजकोट में आयोजित अखिल भारतीय वार्षिक सम्मान समारोह में विज्ञान क्लब के उम्दा गतिविधियों के आधार पर 2019 में पुनः गोल्ड केटेगरी सम्मान से प्रधान वैज्ञानिक डॉ अरविन्द रानाडे और नवोदय विद्यालय संगठन के जॉइंट सेक्रेटरी डॉ रामचंद्रन द्वारा सम्मानित किया गया।वहीं पर आयोजित पोस्टर प्रेजेंटेशन प्रतिस्पर्धा में भी झारखण्ड में क्लब के समन्वयक आलोक चौधरी को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। इस खबर से विज्ञान क्लब के सभी सदस्यों में काफी खुशी है। मौके पर क्लब के वरीय पदाधिकारी सतीश कु पांडेय, अजित कु पांडेय, रामानुज कुमार आदि ने ख़ुशी व्यक्त की है।

YOU CAN BE ISRO YOUNG SCIENTIST - 3 STUDENTS FROM EACH STATE

 APPLY FOR ISRO YOUNG SCIENTIST PROGRAM 2019 


ISRO YOUNG SCIENTIST PROGRAM (SOURCE ISRO)

Downlod ISRO Young Scientist Program form

Full Article in English

क्या है इसरो  यंग साइंटिस्ट प्रोग्राम ?

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन भारत के लिए एक एक ऐसा संस्था है जिसे हम गर्व से देखते है| इसरो ने सरकार की दृष्टि "जय विज्ञान, जय अन्सुधान" के अनुरूप  कार्य करते हुए  इस वर्ष से स्कूली बच्चों के लिए एक विशेष कार्यक्रम शुरू किया है, जिसका नाम है "युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम" (युविका)। यह इसरो का स्टूडेंट आउटरीच प्रोग्राम है|इसरो का मानना है की युवा  हमारे राष्ट्र के भविष्य के निर्माण खंड हैं। इस कार्यक्रम से युवाओं में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों अदि के बारे के रूचि जगाकर  अंतरिक्ष  गतिविधियों के उभरते क्षेत्रों में देश को बढ़ावा मिलेगा । इस प्रकार यह कार्यक्रम उन युवाओं के बीच जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से है जो  इससे उन्हें स्कूल में पढ़ी जाने वाली चीजों और अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी में इसके वास्तविक अनुप्रयोग की सराहना करने में मदद मिलेगी।


 कब और कितने समय का होगा यह कार्यक्रम ?


 समर  रिसर्च प्रोग्राम की तरह ही कार्यक्रम गर्मियों की छुट्टियों के दौरान लगभग दो सप्ताह की अवधि का होगा|इन दो सप्ताह में  छात्रों को काफी कुछ सिखने को मिलेगा जो उन्हें वैज्ञानिक ढंग से सोचने पर मजबूर कर देगा| हालाँकि अभी इस कार्यक्रम की तिथि तय होनी बाकि है इसलिए हम आपको जानकी दे देंगे ,इसके लिए आप ऊपर दिए विकल्प से सब्सक्राइब कर सकते है|


 APPLY FOR ISRO YOUNG SCIENTIST PROGRAM 2019 

 

क्या क्या होगा कार्यक्रम में ?

यह कार्यक्रम चूँकि हैंडस एक्टिविटी पर आधारित है और इसमें छात्रों को अंतरिक्ष विज्ञानं से सम्बंधित बहुत सारी चीजें बनाने सिखाया जायेगा,खासतौर पर सैटलाइट|इसरो का कहना है कि बच्चों द्वारा अच्छे बने  सैटलाइट को अंतरिक्ष में भी छोड़ने का काम किया जायेगा|  इसके अलवावा कार्यक्रम के मुख्य अंग  प्रख्यात वैज्ञानिकों द्वारा अनुभव साझा करना,आमंत्रित वार्ता,विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श के लिए विशेष सत्र,प्रयोगशाला का दौरा,  व्यावहारिक और प्रतिक्रिया सत्र शामिल होंगे।


कौन है इसके लिए योग्यताधरी?

इसरो के अनुसार इसरो यंग साइंटिस्ट प्रोग्राम के लिए वे छात्र योग्य है जो लोग 8 वीं कक्षा पूरी कर चुके हैं और वर्तमान में 9 वीं कक्षा में पढ़ रहे है |
हर साल इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रत्येक राज्य / केंद्र शासित प्रदेश से 3 छात्रों का चयन करना प्रस्तावित है। इसमें सीबीएसई, आईसीएसई और राज्य पाठ्यक्रम में अध्ययनरत छात्र सम्मिलित है।


क्या है चयन प्रक्रिया ?

इसरो ने इस प्रोग्राम में चयन के लिए विशेष  मापदंड बनाया है जिसमे चयन शैक्षणिक प्रदर्शन और पाठ्येतर गतिविधियां सम्मिलित है|इसरो ने समन्धित चयन मापदंड को संबंधित राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों के मुख्य सचिवों को भेजा है  ताकि वे अपने प्रत्येक राज्य / केंद्रशासित प्रदेश से तीन छात्रों के चयन की व्यवस्था कर सकें और सूची को इसरो को बता सकें। ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित छात्रों को इस कार्यक्रम में ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले छात्रों को चयनित करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों के  चयन मानदंडों में विशेष वेटेज दिया गया है।छात्रों  के चयन के लिए संभव है की राज्य अथॉरिटी जिला अथॉरिटी से नाम योग्य छात्र के नाम और उनके चयन का कारण अनुशंसित करने को कहा जाये| इस कार्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए इस वेबसाइट या इसरो या राज्य अथॉरिटी   से जुड़े रह सकते है ताकि सम्बंधित खबर मिल सके|


 APPLY FOR ISRO YOUNG SCIENTIST PROGRAM 2019 


रहने भोजन आदि की व्यवस्था कैसे की जाएगी?

छात्र को  प्रशिक्षण केंद्र में जाने और आने का किराया ( एसी II ) इसरो द्वारा वहां किया जायेगा |  छात्र के अभिभावक / माता-पिता सम्बंधित छात्र प्रशिक्षण केंद्र पर छोड़ने  और लेने साथ जा सकते है और इसके  लिए उनमे से किन्ही  एक  को द्वितीय एसी किराया भी प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा पूरे पाठ्यक्रम के दौरान पाठ्यक्रम सामग्री, आवास और बोर्डिंग आदि, इसरो द्वारा वहन किया जाएगा। चयनित छात्रों को इसरो गेस्ट हाउस / हॉस्टल में रहने की व्यवस्था किया जाएगा। 




कैसी गतिविधिया दिला सकती है छात्रों  को यंग साइंटिस्ट के लिए चयन योग्य ?

चूँकि इसरो ने चयन मापदंड को सार्वजनिक नहीं किया फिर भी इसमें स्पष्ट लिखा है की छात्रों  का चयन शैक्षिक और पाठ्येतर गतिविधियां के आधार पर की जाएगी | इसलिए चयनके लिए आठवीं के मार्क्स काफी अहम् रोले निभाएंगे |और पाठ्येतर गतिविधि के रूप में विज्ञानं प्रदर्शनी, विज्ञानं संगोष्ठी, विज्ञानं पेंटिंग ,विज्ञानं लेखन ,विज्ञानं फिल्म अदि से सम्बद्ध छात्रों को विशेष मन जा सकता है| अंतरिक्ष के क्षत्र में अच्छा काम इसके लिए और योग्य बना सकता है|विज्ञानं क्लब ,एको क्लब अदि से सम्बद्ध छात्रों को भी चयन की सम्भवना है|






और अधिक जानकारी के लिए निचे कमेंट कर  सकते है- 

Comments


  1. Result is awaited till March end.Can we fill the form .Kindly help us to get the form downloaden from which site.Thanks.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Yes you could .We have a you youtube channel for science communication where we have given all info regarding this.
      https://www.youtube.com/channel/UC8a1iQzt9hhFCYtMrC2rqMA?view_as=subscriber

      Delete
  2. Aryabhatt Science12 March 2019 at 03:16

    Sir please download form from given link.and fill and go to District Education Officer of your district and submit to them ,much earlier.Each state can have different last date then contact your DEO.

    ReplyDelete
  3. I have filled the yuvika form online on survey monkey .Com a link provided will it will be considered or not
    Please clarify !!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. I dont think surveymonkey is a proper site to online. But after 21 online option came by isro .So you appliy online is good but where it is important.

      Delete
  4. have filled the yuvika form online on survey monkey .Com a link provided will it will be considered or not
    Please clarify !!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. I dont think surveymonkey is a proper site to online. But after 21 online option came by isro .So you appliy online is good but where it is important.

      Delete
    2. We have a you youtube channel for science communication where we have given all info regarding this.
      https://www.youtube.com/channel/UC8a1iQzt9hhFCYtMrC2rqMA?view_as=subscriber

      Delete
  5. You told in text that the parameters of selection not out.... then when it will come?

    ReplyDelete
    Replies
    1. I Wrote this article on 28 th feb so that time its not out.But We have a you youtube channel for science communication where we have given all info regarding this.
      https://www.youtube.com/channel/UC8a1iQzt9hhFCYtMrC2rqMA?view_as=subscriber

      Delete
  6. Do we have to submit the signed Application to the district education officer (DEO)

    ReplyDelete
    Replies
    1. Yes by apply offline applicatin form had to submit to DEO.

      Delete

Post a Comment

Popular posts from this blog

VVM Participation Certificate Out: Invigilator ,Student and Exame Coordinator

VVM Result 2018

Alok Kr. Chaudhary honored by Dr. APJ Abdul Kalam Young Scientist Award 2018 at Nation Science Techno Fair 2018

Kerala Flood Relief:Help to Indian if You are Indian

Vidyarthi Vigyan Manthan 2018