Wednesday, 12 September 2018

Math Workshop done in SPARSH GOVERNMENT BLIND GIRL'S INTER COLLEGE, LUCKNOW (U.P.)

Math Skill Development Wokshop 4. AIRMC, 6. Aryabhatt Science, Aryabhatt Dr.Chandramauli Joshi, 9.All India Ramanujan Maths Club, 10. Gujrat 11 .News in Science, 12 SPARSH GOVERNMENT BLIND GIRL'S INTER COLLEGE, MOHAAN ROAD- LUCKNOW (U.P.)

स्पर्श राजकीय दृष्टि बाधित बालिका इंटर कॉलेज,लखनऊ में गणित कार्यशाला संपन्न



कार्यक्रम की वीडियो

-











          दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दृष्टि बाधित दिव्यांग छात्राओं के अध्ययन हेतु संचालित स्पर्श राजकीय दृष्टि बाधित बालिका इंटर कालेज, मोहान रोड, लखनऊ की छात्राओं को मौखिक गणित गणना को फास्ट करने की विधि सीखने हेतु  आज दिनांक 10-09-2018 को आल इंडिया रामानुज मैथ क्लब, गुजरात की ओर से गणित कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं विषय वस्तु विशेषज्ञ के रूप में श्री (डा०) चन्द्रमौली जोशी, अध्यक्ष आल इंडिया रामानुज मैथ क्लब पधारे, कार्यक्रम की अध्यक्ष कालेज प्रधानाचार्या श्रीमती संतोष कुमारी गुप्ता ने डा० जोशी  को पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया। कालेज की छात्राओं के टीम ने सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत किया।
तदपश्चात डा० जोशी ने कालेज की छात्राओं को एक एक कर रोचक, मनोरंजक, मैजिकल रूप से सवालों के जवाब शिध्र देने व सरलतम रूप मे  साधारण गणितीय जोड़, घटाव, गुणा, भाग से कठिन गणितीय कैल्कुलेशन मुहजबानी कैसे करे टेक्निक सीखाया। दृष्टि बाधित दिव्यांग छात्राओं ने  स्वयंम् से मौखिक कैलकुलेशन कर सीखे विधि एवं गणना का जाच भी किया। डा० चन्द्रमौली जोशी ने अपने उद्बोधन में कहा की हमारा लक्ष्य भविष्य में दृष्टि बाधित दिव्यांग छात्राओं, व्यक्तियो को दृष्टिवान छात्रों व व्यक्तियों के मध्य मौखिक गणित प्रतियोगिता सम्पन्न कराने की है। जिससे दृष्टि बाधित सिद्ध कर सके की गणित कठिन विषय नहीं है, गणित के प्रति मन मष्तिष्क के डर को दूर कर सके, दृष्टि बाधित अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन कर सकें, वे भी गणित पढ सकते है।
कार्यक्रम का संचालन एवं समन्वय कालेज के प्रवक्ता आलोक कुमार सिंह (संस्थापक एवं समन्वयक एस०आर०एल० ब्रेल विज्ञान क्लब, दृष्टि बाधित दिव्यांगजन हेतु भारत का पहला विपनेट क्लब Reg.I.D. VP-UP0125) ने किया।
कालेज के वरिष्ठ प्रवक्ता श्री राम लाल, नरेन्द्र त्रिपाठी ने भी मौखिक गणित गणना का दृष्टि बाधित जनों के जीवन में महत्व पर प्रकाश डाला।
कार्यक्रम आयोजन में श्रीमती दीपा, सारिका श्रीवास्तव, शालिनी गुप्ता, उपासना पटेल, मंजरी शुक्ला, संगीताचार्या प्रदीप गंगवार, रागिनी अवस्थी, सैय्यदा हासमी ,श्रीमती मीनाक्षी जी व श्रीमती स्वयंम् सिंह जी का  महत्वपूर्ण योगदान रहा।मौखिक गणित कैलकुलेशन के विजेता छात्राओं को विजेता प्रमाण पत्र व प्रतिभागियों को प्रतिभागिता प्रमाण पत्र शिक्षिका श्रीमती कंचन यादव, वर्षा सिंह, अनुसुइया, पूजा दिवेदी, नीतू सिंह आदि के हाथों वितरित हुआ। प्रमाणपत्र पाने के बाद विजेता व प्रतिभागियों के चेहरे प्रफुल्लित थें।
कार्यक्रम की अध्यक्ष्या श्रीमती संतोष कुमारी गुप्ता ने दृष्टि बाधित छात्राओं के मध्य गणित जैसे विषय पर कार्यक्रम आयोजन व डा० जोशी के   पधारने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया। प्रधानाचार्या ने बताया की गणित और विज्ञान का सम्बंध प्रत्येक व्यक्ति के दैनिक जीवन से भी जुडा है। विज्ञान व गणित सभी को पढना चाहिए, प्रत्येक प्रतियोगिता परीक्षा में सामान्य ज्ञान के अन्तर्गत विज्ञान के भी प्रश्न पूछ लिये जाते है।
स्मृति चिन्ह के रूप में डा० चन्द्रमौली को संयुक्त रूप से कालेज प्रधानाचार्या श्रीमती गुप्ता व आलोक कुमार सिंह ने कलम भेंट किया। उक्त कार्यक्रम का आयोजन आल इंडिया रामानुज मैथ क्लब के सौजन्य से व एस०आर०एल० ब्रेल विज्ञान क्लब के सहयोग से सम्पन्न हुआ।
कार्यक्रम का समापन राष्ट्र गान के साथ हुआ।विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री चिराग पुजारा जी भी उपस्थित रहें। श्री पुजारा ने  गणित के प्रति छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। गणित कार्यशाला सम्पन्न होने के बाद प्रतिपुष्टि में जब उन्होंने दृष्टि बाधित  छात्राओं से पूछा- क्या आप गणित की प्रोफेसर बनेगीं, आप गणित की टीचर बनेगी...? तब सभी छात्राओं ने एक साथ, एक लय मेंं जब हाँ कहाँ तब दृष्टि बाधित दिव्यांग छात्राओं के चेहरें एवं आवाज में कान्फिडेंस देखा जा सकता था।

Aryabhatt Science

Author & Editor

For Science communication

0 comments:

Post a comment